भारत के ‘लाईटनिंग बोल्ट’ : निसार अहमद
   

 
 

भारत के ‘लाईटनिंग बोल्ट’ : निसार अहमद

भारत में आज भी खेल जगत को दो भागों में बाँटा जाता हैं – क्रिकेट और अन्य खेल। इसके बावजूद देशभर में अनेकों खिलाड़ी विभिन्न खेलों के ज़रिये अपने लिए अलग पहचान बना रहे है। उनमें से एक है निसार अहमद। दिल्ली के आज़ादपुर की झुग्गियों में 10X10 के छोटे से कमरे में रहनेवाला निसार अहमद अपना मन बहलाने के लिए दौड़ता था। अपनी गति का अंदाज़ा होने पर वो दौड़ की प्रतियोगिताओं में हिस्सा लेने लगा। रिक्शा चालक पिता, घरेलु काम करनेवाली माँ और चार बच्चे, दिल्ली जैसे शहर में घर चलाना मुश्किल था। निसार के पिता बताते है “मेरा बेटा नमक और रोटी खाकर, बगैर जूतों के ही दौड़ की प्रतियोगिताओं में हिस्सा लेता था।” 
 
निसार की प्रतिभा को सबसे पहले उसके अध्यापक सुरेन्द्र सिंह ने 2013 में पहचाना। इसके बाद 2015 -16 में एनवायसीएस और गेल इंडियन स्पीडस्टार के पहले सीज़न में देशभर से बेहतरीन एथलिट चुने गए। सहज था की निसार का भी इस परियोजना में चुनाव हुआ। उसे अपनी प्रतिभा एवं क्षमताओं को बढ़ाने के लिए गेल इंडिया की ओर से उसेन बोल्ट के देश जमैका के किंग्स्टन क्लब में आयोजित प्रशिक्षण शिविर में हिस्सा लेने का भी मौका मिला। इसके साथ ही, एनवायसीएस ने निसार के परिवार के लिए दिल्ली में ही अशोक विहार इलाके में रहने की भी व्यवस्था की। गेल इंडिया और उसके कोच सुनीता राय से मिले प्रशिक्षण और प्रोत्साहन से निसार ने 2017 में, नई दिल्ली में आयोजित “खेलो इंडिया” प्रतिओगिता में स्वर्ण पदक जीतकर अपनी पढ़ाई के लिए छात्रवृत्ति भी हासिल की है। इस प्रतियोगिता में निसार ने केवल 10.56 सेकंडों के समय में 100 मीटर की दुरी तय कर नया नेशनल रिकॉर्ड भी बनाया।
 
निसार अहमद इस वर्ष 13 से 17 अक्तूबर को अर्जेंटीना में हो रहे “यूथ ओलंपिक्स” में भारत का प्रतिनिधित्व करने जा रहे हैं। उनको वहां सफलता प्राप्त करने हेतु एनवायसीएस परिवार की तरफ से हार्दिक शुभकामनाएं।